थायराइड को जड़ से खत्म कैसे करें? जानिए प्राचीन काल के घरेलू उपचार

 थायराइड की बीमारी आज कल की बीमारी नहीं ये बहुत पुरानी बीमारी है। प्राचीन काल में भी थायराइड का उपचार होता था और अभी भी होता आ रहा है।

थायराइड को जड़ से खत्म कैसे करे जानिए प्राचीन काल के घरेलू उपचार में आपको वो उपचार बतावुंगा जिसकी सामग्री सभी के घरों में मौजूद रहती है।

Thyroid photo - thyroid hormone - thyroid symptoms - thyroid test photo - थायराइड फोटो – थायराइड हार्मोन – थायरॉइड फोटो


थायराइड की बीमारी से अचानक वजन बढ़ने या घटने लगता है। गभराने की बात नही है थायराइड से जड़ से छुटकारा पाने के लिए प्राचीन काल का घरेलू उपचार मौजूद है। भारत में बहुत से लोग इस थायराइड की बीमारी से पीड़ित है वो सभी कही न कही प्राचीन घरेलू उपचार का फायदा उठाते है और आप भी उठा सकते है। 


इसे भी जाने:– किडनी स्टोन को जड़ से खत्म कैसे करे? जानिए दादी मां के खास पुराने नुस्खे


ये थायराइड को जड़ से खत्म करने का प्राचीन घरेलू उपाय दोनो प्रकार के थायराइड की बीमारी में लाभदायक है। चाहे कितना भी पुरानी थायराइड की बीमारी हो इस प्राचीन काल के घरेलू उपचार को जरूर आजमाएं।

थायराइड को जड़ से खत्म करने का प्राचीन काल का घरेलू उपचार

1. तुलसी और एलोवेरा

थायराइड के लिए तुलसी के ताजे पत्ते ले और इसी पत्तो का 2 चम्मच रस निकाले। एलोवेरा की 1 चम्मच जेल निकाल ले। दोनो को एक कटोरी में अच्छे से मिक्स करे उसके बाद फौरन इसे पी जाए।

इसी तरह रोजाना इसका उपयोग करे और ये उपचार थायराइड के लिए सबसे उत्तम उपचार है।

2. लाल प्याज

प्याज का रंग अलग अलग होता है जिसे हम पहचानते है उसके रंग से तो आपको लाल रंग की ताजी प्याज लेनी है। प्याज को बिचमे से काट के दो टुकड़े कर दे और रोजाना सोने से पहले इस प्याज से गर्दन पर मालिश करनी है। मालिश करने के बाद गर्दन पर से प्याज को धोए नही ऐसे ही छोड़ दे।

ऐसे रोजाना लाल प्याज की गर्दन पर मालिश करने से थायराइड को जड़ से खत्म कर सकते है।

3. हरा धनिया

हरा धनिया थायराइड को कंट्रोल करता है। इसके लिए आप ऐसे हरा धनिया लो जो ताजे हो और उसमे खुशबू ज्यादा हो। थोड़ा हरा धनिया की चटनी बना लो। एक ग्लास पानी में इस चटनी को मिला ले और तुरंत पी जाए। जब भी आप ये उपचार करे तो धनिया की चटनी ताजी बनाए।

इसी तरह नियमित रूप से हरा धनिया की चटनी का उपयोग कर के आप थायराइड की बीमारी को कंट्रोल कर सकते है।

4. काला मरी

काला मरी मसालों में से एक मसाला है। काला मरी को आप जैसे चाहे वैसे थायराइड की बीमारी के लिए उपयोग में ले सकते है। काला मरी थायराइड की बीमारी में फायदा पहुंचाती है। 

ये चारो घरेलू उपचार प्राचीन काल से थायराइड की बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए किए जाते है। इन सभी प्राचीन घरेलू उपचार की आप नियमित रूप से करते रहिए। इसे आपको जरूर फायदा हो सकता है।


इसे भी जाने:– कमर दर्द के लिए दादी मां के पुराने नुस्खे जो कुछ ही पलों में कमर दर्द ठीक कर के बताएगा


निष्कर्ष:

आज आपने इस लेखन के जरिए थायराइड को जड़ से खत्म करने के प्राचीन काल के घरेलू उपचार को जाना है। मुझे आशा है की आपको कही और जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। आपको ये जानकारी अच्छे से समझ में आई होगी। ये प्राचीन काल का घरेलू उपचार थायराइड को जड़ से खत्म करने में बहुत क्षमता रखता है। आप इन उपचारों का उपयोग बिना हिच किचाए अपने घर पर ही कर सकते है।

अगर आपको थायराइड की बीमारी में ज्यादा तकलीफ होती है या नही फिर भी आप इन प्राचीन काल के घरेलू उपचार के उपयोग के साथ साथ प्रोफेशनल डॉक्टर की मुलाकात जरूर करते रहीए। 


आपके लिए जरूरी जानकारी 


0 $type={blogger}:

एक टिप्पणी भेजें